जबलपुर जिला Jabalpur District Important GK Fact – MP GK

जबलपुर जिला – Madhya Pradesh District Wise General Knowledge in Hindi (म.प्र. की जिलेबार सामान्य ज्ञान )

जिले का नाम जबलपुर (Jabalpur District)
गठन 1956
तहसील जबलपुर, सिहोरा, कुण्डम, मझौली, पाटन, शाहपुरा, पनागर
जबलपुर जिले के साथ सीमाकटनी, दमोह, सिवनी, मंडला, उमरिया, डिंडोरी, नरसिंहपुर
जनसँख्या (2011)24,63,289
साक्षरता दर (2011)81.37%
भौगोलिक स्थिति अक्षांतर स्थिति – 22o49′ से 23o08′ उत्तर
देशांतर स्थिति – 79o21′ से 80o58′ पूर्व

इस पोस्ट के माध्यम से MP Jabalpur District GK के सभी फैक्ट एक ही जगह एकत्रित किये गए है|जिससे MP Professional Examination Board के द्वारा पूछे जाने वाले पेपर्स में छात्र को Jabalpur जिले की जनरल नॉलेज फैक्ट एक ही जगह प्राप्त हो जाये है|इसके आलावा मध्यप्रदेश के सभी जिलों की अलग से पोस्ट बनायी गयी है जिससे आपको MP के सभी District की Districtwise महत्वपूर्ण GK एक जगह मिल जाये|


Trending Posts –


जबलपुर जिले के बारे में | General knowledge of Shahdol district

Jabalpur (जबलपुर) क्षेत्रफल और जनसँख्या की दृष्टि से सबसे बड़ा संभाग है। जबलपुर संभाग(Jabalpur Division) के अंतर्गत 8 जिले आते है। इस पोस्ट में District Jabalpur Imporatnt Gk Fact दिए गए है जो Madhya Pradesh PEB और MPPSC के अंतर्गत होने वाले Exams के लिए महत्वपूर्ण है।

जबलपुर संभाग में 8 जिले आते है –

  1. जबलपुर (District Jabalpur)
  2. कटनी (District Katni)
  3. नरसिंहपुर (District Narsinghpur)
  4. छिंदवाड़ा (District Chhindwara)
  5. बालाघाट (District Balaghat)
  6. मंडला (District Mandla)
  7. सिवनी (District Seoni)
  8. डिण्डोरी (District Dindori)

जरूर पढ़ें:-


जबलपुर जिले का इतिहास

तहसील – जबलपुर (MP Districtwise GK in Hindi)

भौगोलिक स्थिति – जबलपुर जिले की भौगोलिक स्थिति

जबलपुर जिले का क्षेत्रफल 5211 वर्ग किमी. है.

मिट्टियाँ एवं कृषि – जबलपुर जिले में मिट्टियाँ एवं कृषि

  • काली मिट्टी

जबलपुर जिले में मुख्य रूप से काली मिट्टी पाई जाती है.

कृषि – जबलपुर जिले में गेहूं, धान, कोदो कुटकी, चना, तिलहन आदि की खेती की जाती है.

जबलपुर जिले की प्रमुख नदियाँ

  • नर्मदा नदी

जबलपुर जिले की प्रमुख नदी नर्मदा है जो अनूपपुर जिले के अमरकंटक से निकलती है.

सिंचाई एवं परियोजनाएं

बरगी परियोजना – जबलपुर जिले के बरगी के ग्राम बिछौरा में नर्मदा नदी पर रानी अवंतीबाई जलविद्युत परियोजना निर्मित है. यह नर्मदा नदी पर निर्माण कार्य की द्रष्टि से पहला बहुउद्देशीय बांध है. बरगी बांध वर्ष 1974 से 1990 तक पूरी तक से बन कर तैयार हुआ. यह 60 मीटर ऊँचा बांध है. बरगी बांध से जबलपुर, मडला और सिवनी जिले लाभान्वित है.

वन एवं वन्यजीव – District Jabalpur

जबलपुर जिले में संरक्षित, आरक्षित एवं अवर्गीकृत वन क्षेत्र है. यहाँ के वनों में सागौन, तेंदू, लेडिया के पेड़ आदि है एवं पेगोंलिन, मोर, नीलगाय, हिरण, सांभर आदि वनजीव पाए जाते है.

राष्ट्रीय उद्यान एवं अभ्यारण – जबलपुर

वीरांगना दुर्गावती अभ्यारण्य –  इस अभ्यारण्य की स्थापना वर्ष 1970 में की गयी थी. यहाँ अभ्यारण्य दमोह और जबलपुर जिले में 25 वर्ग किमी. के क्षेत्र में स्थित है.

खनिज सम्पदा एवं उद्योग – जबलपुर जिले में

  • लोहा
  • मैंगनीज
  • सोना
  • तांबा
  • बोक्साइट

उद्योग –

  • सीमेंट फैक्ट्री
  • कांच कारखाना
  • चीनी मिट्टी के बर्तन बनाए कारखाना
  • शास्त्र फैक्ट्री

जबलपुर जिले में जनजाति

  • माझी जनजाति
  • पाओ जनजाति  

जबलपुर जिले में माझी और पाओ जनजाति निवास करती है. माझी और पाओ जनजाति प्रदेश की कुल जनजाति की क्रमशः 0.33% और 0.29% है.

जबलपुर जिले की बोलियां एवं मेले –

बघेली

सानोधा का मेला – यह मेला मकर संक्रांति के समय सागर-जबलपुर मार्ग पर स्थित सानोधा में स्थित एक छोटे से किले में 8 दिन तक लगता है।

जबलपुर जिले के प्रमुख पर्यटन स्थल –

  • भेडाघाट-तिलवारा घाट
  • धुआंधार जलप्रपात
  • चौसठ यौगिनी मंदिर
  • जिलहरी घाट ग्‍वारी घाट
  • अजयपुरी घाट
  • लम्‍हेटा घाट
  • ब्राम्हण घाट
  • गोपालपुर घाट
  • मदन महल
  • त्रिपुर सुंदरी मंदिर
  • पंचमठा मंदिर
  • शंकरमठ
  • रानी दुर्गावती समाधि
  • कच्छा मच्छा स्थल

जिले के प्रमुख संग्रहालय –

Jabalpur District GK Fact –

  • मध्‍य प्रदेश की सांस्‍कृतिक राजधानी जबलपुर को कहा जाता है|
  • Jabalpur प्राचीन काल में हैयय वंश की राजधानी थी जिसका नाम त्रिपुरा था यहां पर जबाली नामक ऋषि रहता था जिसकें नाम पर इसका नाम जबलपुर पडा था।
  • जबलपुर Jile को महाकौशल के नाम से जाना  जाता है।
  • Jabalpur क्षेत्रफल में सबसे बडा संभाग है।
  • रेल्‍वे का एक मात्र जोन जबलपुर जिले में है|

  • देश का प्रथम पुनर्वास विकलांग केन्‍द्र जबलपुर में  है|

  • वन डे गवर्नमेंन्‍स लागू करने वाला पहला जिला जबलपुर है|

  • भेडाघाट के आगे नर्मदा नदी पर धुंआधार जल प्रपात है|

  •  मध्‍य प्रदेश की न्‍यायिक राजधानी है क्योंकि यहाँ पर मध्‍य प्रदेश का उच्‍च न्‍यायालय है|

  • शिक्षण मनोविज्ञान मार्गदर्शन कॉलेज जबलपुर में है |
  • पूर्व माध्‍यमिक प्रशिक्षण कोलेज  जबलपुर में है
  • राज्‍य विज्ञान शिक्षा संस्‍थान  जबलपुर में है|

  • सुभ्रदा कुमारी चौहान समारोह जबलपुर में होता है|

  • रानी दुर्गावती अभ्‍यारण जबलपुर में है |

  • जबलपुर से आजादी की लडाई में शंकरशाह और हिरदेन शाह ने अपना बलिदान किया था|

  • जबलपुर में सात विकास खण्‍ड है|

  • भारी बाहन कारखाना एवं पेास्‍ट एंड टेली ग्राफ वर्कशॉजबलपुर में है|

जरूर पढ़ें:- म.प्र. डेली | साप्ताहिक | मंथली करंट अफेयर्स डाउनलोड पीडीएफ | MP Current GK

  • गन केरिज फैक्‍ट्री जबलपुर में है|

  • मध्‍यप्रदेश में उच्‍च न्‍यायालय की स्‍थापना जबलपुर में है|

  • महात्‍मा गांधी समुदायिक विकास  प्रशिक्षण केन्‍द्र जबलपुर में स्थित है|

  • महिला एन सी सी प्रशिक्षण कॉलेज, भारतीय वन अनुसंधान संस्थान एवं ट्रेनिगं सेन्‍टर का क्षेत्रीय कार्यालय जबलपुर में है|  

  • थल सेना का शस्‍त्र स्‍कूल जबलपुर में है |

  • लकडी चीरने का मुख्‍य केन्‍द्र  जबलपुर में है |

  • कृषि अभियांत्रकी महाविध्‍यालय केन्‍द्र जबलपुर में है|

पर्यटन स्थल-

  • भारतीय स्‍वतंत्रता आंदोनर में झण्‍डा सत्‍यग्रह 1923 में जबलपुर से चलाया गया था|

  • म. प्र. ग्रामीण विकास  संस्‍थान  जबलपुर में है|

  • जबलपुर राजपूत काल में कल्‍चुरी वंश की राजधानी भी रहा था|

  • जबलपुर की त्रिपुरी महाकोशल की प्रचीन राजधानी है जिसमें त्रिपुरा देवी का मंदिर है|

  • भेडा घाट नर्मदा नदी पर जल प्रपात  है यहा पर संगमरमर पायी जाती है |

  • जबलपुर से निम्‍न राजमार्ग गूजरते है एन एच 12 , एन एच 45 , एन एच 7 , एन एच 12ए , एन एच 7|

  • बरेला में रानी दुर्गावती की समाधी है और बरगी नदी पर रानी अवन्‍ती बाई की समाधि है यहा पर अवंती सागर भी है|

  • रूपनाथ  में अशोक का शिलालेख मिला था जहा पर उसका नाम अशोक लिखा  था  और चौसठ योगिनी का मंदिर है|

  • जबलपुर में मां दुर्गा देवी का चौसठ यौगिनी का मंदिर है|

  • टिगवा में भगवान बिष्‍णू का गुप्‍त कालीन मंदिर है|

  •  खमरिया में गर्वनमेंन्‍ट ऑर्डिनेंस फैक्‍ट्री है|

  • अंतराष्‍ट्रीय गेंहू एवं मक्‍का अनुसंधान  केन्‍द्र प्रस्‍तावित  है|

  • तीलवारा घाट पर महात्‍मागांधी की अस्थियां  नर्मदा नही  में प्रवाहित की गयी थी|

  • त्रिपुरा में कॉग्रेस काअधिवेशन 1939 में हुआ था|

  • पीजन हरि का मंदिर है |

  • जबलपुर को मार्बल सिटी या संगमरमर की नगरी कहा जाता है|

यह भी जरूर देखें – म. प्र. की प्रमुख पत्र पत्रिकाएं और समाचार पत्र

  • सन 1781 में जबलपुर मराठों ने मुख्‍यालय के रूप में चुना था|

  •  जबलुपर में बावनतालों केा नगर कहा जाता है|

  • Jabalpur डिस्ट्रिक्ट 12 वी शताब्दी में गौड राजाओं की राजधानी रहा था|

  • Jabalpur में सन 1864 में नगर निगम का गठन हुआ था|

  • जबलपुर में तोप गाडी बनाने का कारखाना है|

  • आचार्य विनोवा भावे ने जबलपुर को संस्‍कार राजधानी कहा था|

  • मदन महल का किला राजा मदन शाह ने 11 वी शताब्दि में बनबाया था|

  • जबलपुर का हाई कोर्ट इटालियन कला का नमूना है|

  • उष्‍ण कटिबंधीय वन संस्‍थान जबलपुर में है |

  •  पंडित जवाहरलाल विश्वविद्यालय एवं महेश योगी वैदिक विश्वविद्यालय  जबलपुर में है|
  • भारतीय वन अनुसंधान का क्षेत्रीय कार्यालय जबलपुर में है |

MP Jabalpur District Important GK Fact इस लेख के माध्यम से आप तक पहुँचाने की कोशिश की गयी है| आपको हमारी ये कोशिश कैसी लगी कृपया नीचे Comment के माध्यम से जरूर बताएं तथा आपका कोई सुझाब या इस पोस्ट में कोई त्रुटि हो तो हमें जरूर बताएं| इसके अलावा आप MP के सभी जिलों की MP Districtwise Imporatant GK Fact पढ़ सकते है|

Read More:म. प्र. के संभाग और जिले से सम्बंधित सामान्य ज्ञान

MP General Knowledge District wise –

मुरैनाभिण्डश्योपुरग्वालियर
दतियाशिवपुरीगुनाअशोकनगर
भोपालसीहोररायसेनविदिशा
राजगढ़उज्जैनदेवासशाजापुर
आगर मालवारतलाममंदसौरनीमच
इंदौरधारझाबुआअलीराजपुर
बड़वानीखरगोनखण्डवाबुरहानपुर
सागरदमोहछतरपुरपन्ना
टीकमगढ़निमाड़ीरीवासतना
सीधीसिंगरौलीशहडोलउमरिया
अनूपपुरजबलपुरनरसिंहपुरछिंदवाड़ा
बालाघाटमण्डलाडिंडोरीसिवनी
कटनीबैतूलहरदाहोशंगाबाद

Latest Post

अभी शेयर करो...

Leave a Comment