खण्डवा जिला Khandwa District Important GK Fact | MP GK

जिला खंडवा – म.प्र. की जिलेबार सामान्य ज्ञान (MP District Wise GK in Hindi)

जिले का नामखंडवा (Khandwa District)
गठन 1956
तहसील खंडवा, पुनासा, पंधाना, खालवा, हरसूद
खण्डवा जिले के साथ सीमाखरगौन, देवास, हरदा, बुरहानपुर, बैतूल
राज्यों के साथ सीमा महाराष्ट्र
जनसँख्या (2011)13,10,061
साक्षरता दर (2011)66.39%
भौगोलिक स्थितिअक्षांतर स्थिति – 21o33′ से 22o33′ उत्तर
देशांतर स्थिति – 76o10′ से 77o13′ पूर्व
खंडवा जिला – मध्यप्रदेश जनरल नॉलेज

खंडवा जिले का महत्वपूर्ण सामान्य ज्ञान – Khandwa District Important GK

khandwa Jila GK Fact - MP District wise GK (खंडवा)

1956 में खंडवा जिले का गठन किया गया २००३ में खंडवा से अलग करके बुरहानपुर को नया जिला घोषित किया। खंडवा जिला मध्यप्रदेश के दुसरे बड़े इंदौर संभाग के अंतर्गत आता है। इंदौर संभाग में 8 जिले आते है –

  1. इंदौर (Indore District)
  2. धार (Dhar District)
  3. झाबुआ (Jhabua District)
  4. अलीराजपुर (Alirajpur District)
  5. खंडवा (Khandwa District)
  6. खरगौन (Khargaun District)
  7. बुरहानपुर (Burhanpur District)
  8. बड़वानी (Barwani District)

खण्डवा जिले का इतिहास

प्राचीन मान्‍यताओं के अनुसार खंडवा शहर का प्राचीन नाम खांडव वन था। 1956 से पहले Khandwa District को महा कौशल का हिस्‍सा माना जाता था। 2003 में खण्‍डवा से बुहरानपुर अलग कर जिला बनाया गया था।

तहसील – खण्डवा (MP Districtwise GK in Hindi)

खण्डवा जिला 5 तहसीलों में विभाजित है –

  • खंडवा
  • पुनासा
  • पंधाना
  • खालवा
  • हरसूद

यह जरूर पढ़ें: म.प्र. की प्रमुख पत्र-पत्रिकाएं एवं समाचार पत्र 

भौगोलिक स्थिति – खण्डवा जिले की भौगोलिक स्थिति

खंडवा जिले का क्षेत्रफल 7352 वर्ग किलोमीटर है। खंडवा क्षेत्रफल की द्रष्टि से मध्यप्रदेश का 14 वां जिला है। खंडवा जिले की सीमा मध्यप्रदेश के खरगौन, देवास, हरदा, बुरहानपुर, और बैतूल जिले, महाराष्ट्र राज्य को छूती है। खंडवा जिला भौगोलिक रूप से अक्षांतर स्थिति – 21o33′ से 22o33′ उत्तर और देशांतर स्थिति – 76o10′ से 77o13′ पूर्व में स्थित है।

मिट्टियाँ एवं कृषि – खण्डवा जिले में मिट्टियाँ एवं कृषि

खंडवा जिले में काले रंग की दोमट मिट्टी पाई जाती है।

जरूर पढ़ें:- म.प्र. डेली | साप्ताहिक | मंथली करंट अफेयर्स डाउनलोड पीडीएफ | MP Current GK

खंडवा जिले में गेहूं, चना, प्याज, सोयाबीन की खेती मुख्य रूप से की जाती है.

खण्डवा जिले की प्रमुख नदियाँ

नदियाँ – खंडवा जिले से बहने वाली मुख्य नदियाँ नर्मदा, सूक्ता, और ताप्ती नदी है। नर्मदा प्रदेश की सबसे बड़ी नदी (1077 KM) है जो पूर्व से पश्चिम की ओर बहती है।

खंडवा जिला नर्मदा और ताप्ती नदी के मध्य में स्थित है

सिंचाई एवं परियोजनाएं

इंदिरा सागर परियोजना – यह मध्यप्रदेश के खंडवा जिले के पुनासा ग्राम में नर्मदा नदी पर निर्मित एक बहुद्देशीय परियोजना है। इंदिरा गाँधी नर्मदा सागर परियोजना की नींव श्रीमती इंदिरा गाँधी द्वारा 23 अक्टूबर 1984 को रखी गयी और वर्ष 2005 में इसका शुभारंभ किया गया। इस परियोजना से बड़वानी, खरगोन आदि जिले भी लाभान्वित है।

सूक्ता परियोजना – यह बांध खंडवा जिले में सूक्ता नदी पर निर्मित है।

वन एवं वन्यजीव – District Khandwa

खण्डवा जिले में उष्णकटिबंधीय अर्ध पर्णपाती वन क्षेत्र है। जिले में कुल वनक्षेत्र 9290 वर्ग किलोमीटर है, जिसमें से सर्वाधिक क्षेत्र पर संरक्षित वन है

राष्ट्रीय उद्यान एवं अभ्यारण – खण्डवा

खंडवा जिले में राष्ट्रीय उद्यान प्रस्तावित है।

खनिज सम्पदा एवं उद्योग – खण्डवा जिले में

चूना पत्थर खनिज पदार्थ मध्यप्रदेश के खंडवा, खरगोन, धार, झाबुआ, मंडला आदि जिलों में पाया जाता है

खण्डवा जिले के हरसूद को औद्योगिक क्षेत्र के रूप में विकसित किया जा रहा है.

उद्योग – सिंगाजी सुपर थर्मल पॉवर प्रोजेक्ट खंडवा जिले में स्थापित है यहाँ एक कोयला आधारित बिजली संयंत्र है. इसका शुभारंभ 05 मार्च 2015 को श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा किया गया था.

खण्डवा जिले में जनजाति

खण्डवा और उसके आसपास के जिलों में भील (भिल्ल) जनजाति निवास करती है

Read More:म. प्र. का सम्पूर्ण सामान्य ज्ञान | करंट GK | जी.के.क्विज आदि

  • समास किसे कहते है? | परिभाषा, भेद एवं उदाहरण | समास विग्रह

    समास किसे कहते है?, (What is Samas) परिभाषा, भेद एवं उदाहरण – समास और संधि के द्वारा शब्‍द रचना की जाती है। समास और संधि की शब्‍द रचना में अंतर होता है। संधि से केवल शब्‍द की रचना की जा सकती है। जबकि समास से  शब्‍द और पद दोनों रचनाएं की जाती है। इनमें समास के द्वारा … Read more

  • मध्य प्रदेश के प्रमुख लोक नृत्य | MP ke Lok Nritya in hindi

    MP ke Lok Nritya – Folk Dances of Madhya Pradesh निमाड़ अंचल, बुन्देलखण्ड, मालवा अंचल, बघेलखण्ड के लोकनृत्य, मालवा के लोकनृत्य, शादी-विवाह, त्यौहार लोकनृत्य आदि के सभी निम्नलिखित है- मध्य प्रदेश के प्रमुख लोक नृत्य – Folk Dances of Madhya Pradesh बधाई नृत्य – बुंदेलखण्ड में खुशी के अवसर पर किया जाने वाला नृत्य है। … Read more

  • मध्य प्रदेश की प्रमुख गुफाएं एवं परीक्षा उपयोगी प्रश्न – MP Ki Gufa

    मध्य प्रदेश की प्रमुख गुफाएं – मध्य प्रदेश की प्रमुख गुफाएं मृगेन्द्रनाथ गुफा – घाटी गांव (रायसेन) दुर्लाभ राॅक पेंटिंग्स हैं। खोज जुलाई, 2009। इन गुफाओं की तुलना भीमबेटका गुफाओं से की जाती हैं। ये गुफाएं जैन धर्म से सम्बन्धित है। उदयगिरि की गुफाएं – (विदिशा) यहां पर 20 गुफाएं हैं, जो जैन व हिन्दू … Read more

  • श्लेष अलंकार की परिभाषा, प्रकार, 20 उदाहरण | Shlesh Alankar

    श्लेष अलंकार की परिभाषा उदाहरण सहित– Shlesh Alankar Shlesh Alankar kise kahate hai? परिभाषा – श्लेष का अर्थ है – “चिपका हुआ” अर्थात एक ही शब्द के एक से अधिक अर्थ निकले अर्थात शब्द एक अर्थ चिपका हुआ या एक शब्द के अनेक अर्थ निकलते हैं, उसे हम श्लेष अलंकार (Shlesh Alankar) कहते हैं| उदाहरण … Read more

खण्डवा जिले की बोलियां एवं मेले –

इस क्षेत्र के में निवाड़ी बोली प्रचलित है.

कार्तिक मेला ओंमकारेश्वर – खण्डवा जिले के ओंमकारेश्वर में कार्तिक महीने की एकादश या देव उठनी ग्यारस से इसी महीने की पूर्णिमा तक एक उत्सव का आयोजन किया जाता है और पंचक्रोशी यात्रा की शुरुआत भी इसी महीने से की जाती है

संत सिंगाजी का मेला – इस मेले का आयोजन खंडवा जिले के पिपल्या गांव में शरद पूर्णिमा के दिन किया जाता है. यह मेला निमाड़ के प्रसिद्ध संत सिंगाजी की स्मृति में प्रत्येक वर्ष उस क्षेत्र की जनजातियों द्वारा बड़ी धूम धाम से आयोजित किया जाता है.

खण्डवा जिले के प्रमुख पर्यटन स्थल –

  • इंदिरा सागर बांध
  • ओंमकारेश्वर ज्योतिर्लिंग मंदिर
  • हनुमंतिया टापू
  • सिंगाजी महाराज धाम
  • सूरज कुण्ड, रामेश्वर कुण्ड, पदम् कुण्ड, भीमकुंड
  • भगवन संभवनाथ मंदिर

Khandwa District GK Fact –

  • खण्‍डवा के नर्मदा वेंक वाटर से निर्मित टापू पर हनुमंतिया को पर्यटक और पवित्र स्‍थान का दर्जा मिला है|
  • घोघला से देश का प्रथम जल सत्‍याग्रह किया गया था|
  • पुनासा में नर्मदा पर इंदिरा सागर प्रोजैक्‍ट के तहत सबसे बडा बांध बनाया गया है|
  • ओंकारेश्‍वर के 12 ज्‍योर्तिलिंगो (मान्धाता) में से एक खंडवा जिले में है। Khandwa District में ओंकारेश्वर विद्युत परियोजना है। खंडवा में मध्‍य प्रदेश का 11वां राष्‍ट्रीय उद्यान प्रस्‍तावित है।
  • डोलिया के मुंदी में संत सिंगाजी विद्युत परियोजना है।
  • नागचुंग बांध से नर्मदा को जलप्रदाय होता है।
  • गोराडिया में दादा धूनिवाले ताप विधुत परियोजना है।
  • खण्‍डवा नगर में प्रसिद्ध घंटा घर है।
  • Khandwa District में गायक किशेार कुमार की जन्‍म स्‍थली मानी जाती है, इनकी स्‍मृति में गौरी कुंज का निर्माण कराया गया था|
  • खंडवा जिले की प्रमुख नदियां नर्मदा और ताप्‍ती है। खंडवा गांजा उत्‍पादक जिला कहलाता है इसे गंजेडियों का शहर भी कहा जाता है।
  • Khandwa District से राष्ट्रीय राजमार्ग NH – 347बी, 753 गुजरते है।
  • खंडवा में भूकंप मापी केंद्र भी है।

District wise Madhya Pradesh General Knowledge

मुरैनाभिण्डश्योपुरग्वालियर
दतियाशिवपुरीगुनाअशोकनगर
भोपालसीहोररायसेनविदिशा
राजगढ़उज्जैनदेवासशाजापुर
आगर मालवारतलाममंदसौरनीमच
इंदौरधारझाबुआअलीराजपुर
बड़वानीखरगोनखण्डवाबुरहानपुर
सागरदमोहछतरपुरपन्ना
टीकमगढ़निमाड़ीरीवासतना
सीधीसिंगरौलीशहडोलउमरिया
अनूपपुरजबलपुरनरसिंहपुरछिंदवाड़ा
बालाघाटमण्डलाडिंडोरीसिवनी
कटनीबैतूलहरदाहोशंगाबाद

Leave a Comment

error: