प्रमुख राष्ट्रीय पुरस्कार list of national awards in India in Hindi

Important National & International Award list

Bharat Ratna Award

भारत रत्न :-  भारत रत्न देश का सबसे बड़ा पुरस्कार है। यह कला, साहित्य या विज्ञान अथवा बहुत बड़े स्तर पर जनसेवा या उत्कृष्ट कार्य करने पर दिया जाता है। भारत रत्न पुरस्कार की शुरुआत 1954 से हुई थी। यह पुरस्कार 26 जनवरी (गणतंत्र दिवस) के दिन भारत के राष्ट्रपति द्वारा दिया जाता है। भारत रत्न मैडल  पीपल के पत्ते के आकार का होता है जिस पर सूर्य का चित्र अंकित रहता है।

सर्वप्रथम भारत रत्न वर्ष 1954 में डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन, चक्रवर्ती राजगोपालाचारी, डॉ चंद्रशेखर वेंकटरमन, 3 व्यक्तियों को दिया गया था। इनमें से भी सबसे पहले भारत रत्न डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी को दिया गया था।

  • वर्ष 1962 में भारत के प्रथम राष्ट्रपति डॉ राजेन्द्र प्रसाद को भारत रत्न पुरस्कार से सम्मानित किया गया।
  • मरणोपरांत भारत रत्न पुरस्कार से सर्वप्रथम लाल बहादुर शास्त्री को सम्मानित किया गया।

Padam Award (पदम पुरस्कार)

Padam Award भारत का दूसरा,भारत रत्न पुरस्कार के बाद, सबसे बड़ा सम्मान है इसे 3 भागो में विभाजित किया गया है-

  1. विभूषण :- पदम विभूषण पुरस्कार सरकारी कमर्चारियों द्वारा दी गयी सेवाओं सहित किसी भी क्षेत्र में विशेष तथा उल्लेखनीय कार्य के लिए दिया जाता है। यह दूसरा सबसे बड़ा राष्ट्रीय पुरस्कार है।

  1. भूषण :- पदम भूषण किसी भी क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य के लिए दिया जाने वाला तीसरा सबसे बड़ा राष्ट्रीय पुरस्कार है।

  1. पदम श्री :- पदम श्री किसी क्षेत्र में विशिष्ट कार्य करने पर दिया जाने वाला चौथा सबसे बड़ा राष्ट्रीय सम्मान है।

Padam Award
1. Padam Vibhushan Awardदूसरा सबसे बड़ा राष्ट्रीय पुरस्कार, सरकारी कमर्चारियों द्वारा दी गयी सेवाओं सहित किसी भी क्षेत्र में विशेष तथा उल्लेखनीय कार्य के लिए |
2. Padam Bhushan Awardतीसरा सबसे बड़ा राष्ट्रीय पुरस्कार, किसी भी क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य के लिए |
3. Padam Shri Awardचौथा सबसे बड़ा राष्ट्रीय सम्मान, किसी क्षेत्र में विशिष्ट कार्य करने पर दिया जाने वाला
Padam Award

भारत के वीरता पुरस्कार

भारत की थल सेना, वायु सेना, तथा नौ सेना के वीर और साहसी जवानों को उनके साहसिक कार्य के लिए कई पदको से सम्मानित किया जाता है जो निम्न है-

  1. परमवीर चक्र :- वीरता और साहसिक कार्य के लिए दिए जाने वाला सर्वोच्च पुरस्कार या मैडल है, जो थल, वायु, तथा नौ सेना में दुश्मन के सामने बहादुरी के सर्वोउत्कृष्ट कार्य या आत्मबलिदान के लिए दिया जाता है। यह पदक कांस्य का बना होता है जिस पर इन्द्रवज्र अंकित होता है तथा हिंदी में परमवीर चक्र लिखा होता है।

  1. महावीर चक्र :- महावीर चक्र(मैडल) थल सेना, जल सेना, और वायु सेना में दुश्मन के सामने बहादुरी और आत्मबलिदान  के लिए दिया जाने वाला दूसरा सबसे बड़ा वीरता पुरस्कार है। यह चाँदी का बना होता है।

  1. वीर चक्र :- वीर चक्र तीसरा बड़ा वीरता पुरस्कार है। जो तीनों सेनाओं में साहस, पराक्रम और आत्मबलिदान के लिए दिए जाता है। यह पुरस्कार स्टैण्डर्ड चांदी का बना है।

  1. विशिष्ट सेवा मैडल :- यह मैडल सेना के कर्मचारियों को असाधारण तथा उच्च कोटि के विशिष्ट कार्य के लिए प्रदान किया जाता है|

5. अशोक चक्र :- अशोक चक्र तीनों सेनाओं में साहस पराक्रम अथवा आत्मबलिदान का बहुत ही सराहनीय कार्य करने पर दिया जाता है।

6. जीवन रक्षक मैडल :- किसी भी प्रकार की दुर्घटना जैसे डूबने से, आग से, या किसी भी प्रकार से जान बचाने वाले साहसिक एवम वीरतापूर्ण कार्य के लिए प्रदान किया जाता है।

भारत के वीरता पुरस्कार लिस्ट

1. परमवीर चक्र वीरता और साहसिक कार्य के लिए दिए जाने वाला सर्वोच्च पुरस्कार या मैडल है, जो थल, वायु, तथा नौ सेना में दुश्मन के सामने बहादुरी के सर्वोउत्कृष्ट कार्य या आत्मबलिदान के लिए दिया जाता है।
2. महावीर चक्रथल सेना, जल सेना, और वायु सेना में दुश्मन के सामने बहादुरी और आत्मबलिदान  के लिए दिया जाने वाला दूसरा सबसे बड़ा वीरता पुरस्कार है।
3. वीर चक्र तीनों सेनाओं में साहस, पराक्रम और आत्मबलिदान के लिए दिए जाने वाला तीसरा सबसे बड़ा वीरता पुरस्कार
4. विशिष्ट सेवा मैडल सेना के कर्मचारियों को असाधारण तथा उच्च कोटि के विशिष्ट कार्य के लिए प्रदान किया जाता है|
5. अशोक चक्रतीनों सेनाओं में साहस पराक्रम अथवा आत्मबलिदान का बहुत ही सराहनीय कार्य करने पर दिया जाता है।
6. जीवन रक्षक मैडलकिसी भी प्रकार की दुर्घटना जैसे डूबने से, आग से, या किसी भी प्रकार से जान बचाने वाले साहसिक एवम वीरतापूर्ण कार्य के लिए प्रदान किया जाता है।
Bharat ke Veerta Purskar

Nobel Prize (नोबेल पुरस्कार)

नोबेल पुरस्कार :-  नोबेल पुरस्कार ( Nobel Prize ) की शुरुआत वर्ष 1901 से की गयी। इसकी स्थापना स्वीडेन के वैज्ञानिक अल्फ्रेड नोबेल ने की थी। अल्फ्रेड नोबेल स्वीडिश वैज्ञानिक तथा केमिकल इंजीनियर थे जिसने वर्ष 1967 में डायनामाइट की खोज की। उनकी मृत्यु के बाद उनके धन को पुरस्कार के रूप में वितरित करने की इच्छा थी। अपनी वसीयत में उन्होंने कहा “सबसे योग्य व्यक्ति चाहे वो स्वीडिश हो या ना हो पुरस्कार प्राप्त करेगा” ।

नोबेल पुरस्कार  साहित्य, विज्ञान( चिकित्सा, भौतिकी, रसायन),  पीस (शांति) तथा अर्थशास्त्र के क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान के लिए दिया जाता है।

भारतीय/भारतीय मूल नोबेल पुरस्कार विजेता

  • रविन्द्र नाथ टैगोर :- वर्ष 1913 में रविन्द्र नाथ टैगोर की काव्य संग्रह गीतांजलि का अंग्रेजी में अनुवाद ( 1910 में अंग्रेज कवि W. B. Yeats ने) करने तथा प्रस्तावना लिखने पर नोबेल पुरस्कार मिला।

  • सी. वी. रमन :- सी.वी. रमन को उनकी खोज ‘रमन प्रभाव’ के लिए 1930 में भौतिकी के क्षेत्र में नोबेल पुरस्कार मिला।

  • हरगोबिंद खुराना :- हरगोबिंद खुराना को सन 1968 में ‘कृत्रिम जीन के संश्लेषण’ के लिए चिकित्सा का नोबेल पुरस्कार मिला।

  • मदर टेरेसा :- मदर टेरेसा को ‘समाज सेवा कार्यों’ के लिए 1979 में शांति का नोबेल पुरस्कार मिला।

  • सुब्रमण्यम चंद्रशेखर :- सुब्रमण्यम चंद्रशेखर को 1983 में इनकी खोज ‘चन्द्रशेखर सीमा’ के लिए भौतिकी का नोबेल पुरस्कार मिला।

  • अमर्त्य सेन :- अमर्त्य सेन को ‘कल्याणकारी अर्थव्यवस्था’ के लिए अर्थव्यवस्था के क्षेत्र में 1998 में नोबेल पुरस्कार मिला।

  • वी. एस. नायपाल :- साहित्य के क्षेत्र में 2001 में नोबेल पुरस्कार दिया गया।

  • वेंकटरमन रामकृष्ण :- भारतीय अमेरिकी रामकृष्ण को रसायन के क्षेत्र में ‘प्रोटीन निर्माण राइबोसोम की संरचना तथा कार्य-प्रणाली’ में संयुक्त रूप से कार्य करने पर 2009 में रसायन के क्षेत्र में नोबेल पुरस्कार मिला।

  • कैलाश सत्यार्थी :- कैलाश सत्यार्थी को शांति के लिए 2014 में नोबेल पुरस्कार मिला।

दो बार नोबेल पुरस्कार प्राप्त करने वाले :-

  • मैडम क्यूरी :- मैडम क्यूरी को दो बार एक बार वर्ष 1903 में रेडियो सक्रियता (भौतिकी) में तथा दूसरी बार वर्ष 1911 में शुद्ध रेडियम रसायन के निष्कर्षण के लिए नोबेल पुरस्कार मिला।

फिल्म क्षेत्र के प्रमुख पुरस्कार

दादा साहेब फाल्के पुरस्कार :- दादा साहेब फाल्के पुरस्कार (Dadasaheb Phalke Award) फ़िल्म के क्षेत्र में वर्ष 1969 से प्रदान किया जाता है। इसके अंतर्गत स्वर्ण कमल तथा 10 लाख रुपये की राशि दी जाती है।

ऑस्कर अवार्ड (Oscar Award) :- ऑस्कर पुरस्कार की शुरुआत सन 1929 में हुई थी। ऑस्कर अवॉर्ड विश्व फ़िल्म जगत का सबसे प्रतिष्ठित सम्मान (अवॉर्ड) है।

ऑस्कर पुरस्कार (Oscar Award) से नामित प्रथम भारतीय फ़िल्म मदर इंडिया (1957) है। अन्य भारतीय नामित फ़िल्म सलाम बॉम्बे(1988), लगान(2001), शवास(2004), पहली(2005) तथा रंग दे बसंती(2006) है।

ग्रेमी पुरस्कार :- ग्रैमी पुरस्कार (Grammy Award) वर्ष 1959 से संगीत के क्षेत्र में दिया जाता है। भारत के सुप्रसिद्ध सितारवादक पंडित रविशंकर को मिला था।

साहित्य के क्षेत्र में दिए जाने वाले पुरस्कार

1. ज्ञानपीठ पुरस्कार :- ज्ञानपीठ पुरस्कार (Jnanpith Award) साहित्य के क्षेत्र में वर्ष 1965 से दिया जाता है। इसके अंतर्गत 5 लाख रुपये की राशि प्रदान की जाती है।

  • पहला ज्ञानपीठ पुरस्कार वर्ष 1965 में मलयालम साहित्यकार जी. शंकर कुरूप को  दिया गया था।
  • हिंदी साहित्यकार में सबसे पहले ज्ञानपीठ पुरस्कार सुमित्रानंदन पंत जी को 1968 में दिया गया।
  • हिंदी साहित्य का दूसरा ज्ञानपीठ पुरस्कार 1972 में रामधारी सिंह ‘दिनकर’ को दिया गया था।
  • महादेवी वर्मा को हिंदी साहित्य का ज्ञानपीठ पुरस्कार 1982 में दिया था।
  • अन्य हिंदी साहित्यकार जिनको ज्ञानपीठ पुरस्कार दिया है- एच. एस. अज्ञेय (1978) में, नरेश मेहता (1992), निर्मल वर्मा (1999), कुंवर नारायण (2005), और प्रो. केदारनाथ सिंह (2013) है।

  • हिंदी साहित्य का 2017 का ज्ञानपीठ पुरस्कार हिंदी साहित्यकार कृष्णा सोबती को दिया गया।

2. मान बुकर पुरस्कार :- मान बुकर पुरस्कार (Man Booker Prize) साहित्य के क्षेत्र में नोबेल पुरस्कार के बाद सबसे बड़ा पुरस्कार माना जाता है। मान बुकर पुरस्कार सन 1969 साहित्य के क्षेत्र में दिया जाता है।

3. रेमन मैग्सेसे पुरस्कार :- रमन मैग्सेसे पुरस्कार (Ramon Magsaysay Award) फिलीपींस के तीसरे राष्ट्रपति रमन मैग्सेसे की स्मृति में फिलीपींस सरकार द्वारा 1958 से दिया जाता है।

रेमन मैग्सेसे पुरस्कार सरकारी सेवा, साहित्य, संचार, पत्रकारिता, एवम अन्तर्राष्ट्रीय समझ के क्षेत्र में दिया जाता है।

4. व्यास सम्मान :- व्यास सम्मान साहित्य के क्षेत्र में दिया जाता है।

5. वाचस्पति पुरस्कार :- वाचस्पति पुरस्कार संस्कृत साहित्य के क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान के लिए दिया जाता है।

6. सरस्वती सम्मान :- सरस्वती पुरस्कार 1991 से साहित्य के क्षेत्र में दिया जाता है।

खेल जगत के प्रमुख पुरस्कार

राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार :- राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार ( Rajeev Gandhi Khel Ratna Award ) खेलों में सराहनीय प्रदर्शन करने पर दिया जाता है। यह पुरस्कार वर्ष 1992 से दिया जाता है। इस पुरस्कार के अंर्तगत 7.5 लाख रुपये की राशि प्रदान की जाती है।

ध्यानचंद पुरस्कार :- ध्यानचंद पुरस्कार (Dhyan Chand Award) खेलों में जीवन भर की उपलब्धियों के लिए दिया जाता है। ध्यानचंद पुरस्कार के अंतर्गत 5 लाख रुपये की राशि दी जाती है।

द्रोणाचार्य पुरस्कार :- द्रोणाचार्य पुरस्कार (Dronacharya Award) खेल के क्षेत्र में खेल प्रशिक्षकों (गुरूओं) को दिया जाता है। ऐसे प्रशिक्षक जिन्होंने खिलाड़ियों को ऊँचाई तक पहुँचाने के लिए अपना योगदान दिया हो। द्रोणचार्य पुरस्कार की शुरुआत 1985 से हुई। इस पुरस्कार में 5 लाख रुपये की राशि दी जाती है।

अर्जुन पुरस्कार :- अर्जुन पुरस्कार ( Arjun Award ) खेल के क्षेत्र में खिलाड़ियों को दिया जाता है। अर्जुन पुरस्कार वर्ष 1961 से प्रारंभ हुआ है।

खेल के क्षेत्र में दिए जाने वाले पुरस्कार

राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार
ध्यानचंद पुरस्कार
द्रोणाचार्य पुरस्कार
अर्जुन पुरस्कार

कलिंग पुरस्कार ( Kalinga Award ) :- कलिंग पुरस्कार की शुरुआत वर्ष 1952 से हुई। यह पुरस्कार विज्ञान के क्षेत्र में दिया जाता है।

भटनागर पुरस्कार :- भटनागर पुरस्कार विज्ञान के क्षेत्र में 1957 से दिया जाता है।

पुलित्जर पुरस्कार :- पुलित्जर पुरस्कार (Pulitzer Prize) विश्व का पत्रकारिता के क्षेत्र में असाधारण योगदान के लिए सबसे प्रतिष्ठित पुरस्कार है। यह 1970 से दिया जाता है।

शंकर पुरस्कार :- शंकर पुरस्कार संस्कृति, दर्शन तथा कला के क्षेत्र में दिया जाता है।

कबीर पुरस्कार :- सामाजिक सदभाव के क्षेत्र में।

अभी शेयर करो...

Leave a Comment