मध्य प्रदेश की सम्पूर्ण सामान्य जानकारी – MP GENERAL KNOWLEDGE 2022

मध्य प्रदेश की सामान्य जानकारी – इस लेख के माध्यम से आप मध्य प्रदेश की जानकारी सामान्य ज्ञान जानेगें। जिसमें म. प्र. का सामान्य परिचय, भौगोलिक स्थिति, प्रदेश में एकमात्र, किले, त्यौहार, मकबरा, जलप्रपात, नदियां, समारोह आदि सम्पूर्ण MP GK in Hindi में बताया गया है.

मध्‍य प्रदेश सामान्‍य परिचय

म.प्र. का क्षेत्रफल 3,08,252 वर्ग किमी. है जोकि भारत के क्षेत्रफल का 9.38 प्रतिशत है। मध्‍य प्रदेश पूर्णत: भूआवेष्टित (Land Locked) प्रदेश है। इसका ढाल उत्तरमुखी है।

मध्य प्रदेश सामान्य जानकारी
मध्य प्रदेश की सम्पूर्ण सामान्य जानकारी - MP GENERAL KNOWLEDGE 2022 2
राज्य मध्य प्रदेश
गठन 1 नवंबर, 1956 (मध्य प्रदेश राज्य दिवस)
राजधानी भोपाल
क्षेत्रफल3,08,252 वर्ग किमी.
जनसँख्या7,26,26,809
जनसँख्या घनत्व 236 व्यक्ति प्रति वर्ग किमी.
कुल जिले 52 (52वाँ ज़िला- निवाड़ी)
संभागों की संख्या10
राज्य के अन्य नाम हृदय प्रदेश, सोया प्रदेश, टाईगर स्टेट, तेंदुआ राज्य
उच्च न्यायालय जबलपुर (खंडपीठ- इंदौर, ग्वालियर)
विकासखंड313
तहसील 428
नगर/शहर476
नगर निगम16
नगरपालिका98+1 (2021)
नगर परिषद294
कुल ग्राम54903
ज़िला पंचायत51
ग्राम पंचायत 22812 (2019-20)
आदिवासी विकासखंड89
राज्य की विधायिकाएक सदनीय (विधानसभा)
विधानसभा सदस्यों की संख्या 231 [230 + 1 एंग्लो-इंडियन सदस्य ]
विधानसभा में अनुसूचित जाति के लिये आरक्षित सीटों की संख्या35
विधानसभा में अनुसूचित जनजाति के लिये आरक्षित सीटों की संख्या47
लोकसभा सदस्यों की संख्या29
अनुसूचित जाति के लिये आरक्षित लोकसभा सीटें 4
अनुसूचित जनजाति के लिये आरक्षित लोकसभा सीटें 6
राज्यसभा सीट11

पुरुष जनसंख्या -3, 76, 12, 306
महिला जनसंख्या -3, 50, 14, 503
ग्रामीण जनसंख्या -5, 25, 57, 404
ग्रामीण पुरुष -2, 71, 49, 388
ग्रामीण महिला -2, 54, 08, 016
शहरी जनसंख्या -200, 69, 405
शहरी पुरुष -1, 04, 62, 918
शहरी महिला -96, 06, 487
मध्य प्रदेश की सबसे बड़ी तहसील (क्षेत्र) -इंदौर
मध्य प्रदेश की सबसे छोटी तहसील (क्षेत्र) -अजयगढ़ (पन्ना)
क्षेत्रफल की दृष्टि से मध्य प्रदेश का देश में स्थान -दूसरा
सर्वाधिक कुपोषित ज़िला -श्योपुर
सबसे कम कुपोषित ज़िला -भोपाल
मध्य प्रदेश राज्य का जनसंख्या घनत्व -236 वर्ग किमी.
सर्वाधिक जनघनत्व वाला ज़िला -भोपाल (855 व्यक्ति प्रतिवर्ग किमी.)
सबसे विरल जनघनत्व वाला ज़िला -डिंडोरी (94 व्यक्ति प्रतिवर्ग किमी.)
क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे बड़ा संभाग -जबलपुर
क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे छोटा संभाग -नर्मदापुरम (होशंगाबाद)
सर्वाधिक सघन आबादी वाला संभाग -इंदौर
सबसे विरल आबादी वाला संभाग -शहडोल
क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे बड़ा ज़िला -छिंदवाड़ा
क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे छोटा ज़िला -निवाड़ी
जनसंख्या की दृष्टि से सबसे बड़ा ज़िला -इंदौर
जनसंख्या की दृष्टि से सबसे छोटा ज़िला -हरदा
मध्य प्रदेश का सर्वाधिक लिंगानुपात वाला ज़िला -बालाघाट (1021)
मध्य प्रदेश का सबसे कम लिंगानुपात वाला ज़िला -भिंड (837)
मध्य प्रदेश में साक्षरता की दर -69.3 प्रतिशत
पुरुष साक्षरता -78.7 प्रतिशत
महिला साक्षरता -59.2 प्रतिशत
सर्वाधिक साक्षर संभाग -जबलपुर
सबसे कम साक्षर संभाग -इंदौर
राज्य का सर्वाधिक साक्षर ज़िला -जबलपुर (81.01%)
राज्य का सबसे कम साक्षर ज़िला -अलीराजपुर (36.1%)
सर्वाधिक पुरुष साक्षरता वाला ज़िला -इंदौर
सर्वाधिक महिला साक्षरता वाला ज़िला -भोपाल
प्रदेश की सबसे बड़ी जनजाति -भील

मध्य प्रदेश के प्रतीक चिन्‍ह या अन्‍य चिन्‍हMadhya pradesh ke Rajya Ke Pratik Chinha

राजकीय चिन्ह 24 स्तूप आकृति के अंदर एक वृत्त, जिसमें गेहूँ और धान की बालियाँ हैं।
राज्‍य पुष्‍पलिली
राजकीय नृत्यराई
राजकीय नाट्यमाचा
राजकीय पक्षीदूधराज या शाह बुलबुल(पेराडाइज फ्लाइकेचर)
राजकीय खेल मलखम्‍ब
राजकीय नदी नर्मदा नदी
राजकीय मछलीमहाशीर प्रजाति (2013 में घोषित)
राजकीय पशुबारह सिंगा (ब्रेडरी प्रजाति)
राजकीय वृक्षबरगद (बट वृक्ष)
राजकीय फसलसोयाबीन
राजकीय भाषाहिन्‍दी
मध्य प्रदेश गानमेरा मध्‍य प्रदेश (रचनाकार- महेश श्रीवास्‍तव)

मध्‍य प्रदेश राज्‍य की स्‍थापना 1 नबम्‍बर 1956 को हुई जिसके साथ ही मध्‍य प्रदेश में अनेक चिन्‍हों को राजकीय चिन्‍ह घोषित किया गया लेकिन कुछ चिन्‍ह जो कि राज्‍य स्‍थापना की 25 वीं वर्षगांठ पर 1 नबम्‍बर 1981 को राजकीय पशु, पक्षी, वृक्ष आदि घोषित किये गये थे। बाद में समय-समय पर राज्‍य खेल, राज्‍य मछली, आदि घोषित किये गये।  

मध्य प्रदेश में प्रथम –

प्रथम राज्यपालडॉ. बी. पट्टाभि सीतारमैया
प्रथम महिला राज्यपालसुश्री सरला ग्रेवाल
प्रथम मुख्यमंत्रीपं. रविशंकर शुक्ला
प्रथम महिला मुख्यमंत्रीसुश्री उमा भारती
प्रथम विधानसभा अध्यक्षपं. कुंजीलाल दुबे
प्रथम विधानसभा उपाध्यक्षविष्णु विनायक सरवटे
प्रथम विपक्ष का नेताश्री विष्णुनाथ यादवराव तामस्कर
उच्च न्यायालय के प्रथम मुख्य न्यायाधीशमोहम्मद हिदायतुल्ला
प्रथम महिला न्यायाधीशश्रीमती सरोजनी सक्सेना
प्रथम मुख्य सचिवश्री एच.एस. कामथ
प्रथम निर्वाचन आयुक्तएन.बी. लोहानी
प्रथम लोकायुक्तपी.वी. दीक्षित
प्रथम राज्य सूचना आयुक्तटी.एन. श्रीवास्तव
प्रथम वित्त आयोग के अध्यक्षडॉ. सवाई सिंह सिसौदिया
प्रथम विपक्ष की महिला नेताजमुना देवी
प्रथम नोबेल शांति पुरस्कार प्राप्तकर्त्ता व्यक्तिकैलाश सत्यार्थी

मध्य प्रदेश की भौगोलिक स्थिति एवं विशेषताएँ

. प्र. की स्थिति – 74. 59’ पूर्वी देशान्‍तर से 82.66’ पूर्वी देशान्‍तर 21.6’ उत्तरी अक्षांश से 26.30’  उत्तरी अक्षांश। मध्य प्रदेश राज्‍य का क्षेत्रफल की दृष्टि में दूसरा स्‍थान है एवं जनसंख्‍या की स्थिति में 5 वां स्‍थान है 2014 से पहले 6 वां स्‍थान था।कर्क रेखा मध्‍य प्रदेश के 14 जिलों से गुजरती है. भारत की मध्‍यान्‍ह रेखा 82.5 मध्‍य प्रदेश के एक मात्र जिले सिंगरौली से गुजरती है।

  • मध्य प्रदेश की उत्तर से दक्षिण की लंबाई -605 किमी. एवं पूर्व से पश्चिम की चौड़ाई -870 किमी.
  • राज्य की सीमा से लगे राज्य -5, [उ.प्र. (उत्तर-पूर्व), महाराष्ट्र (दक्षिण-पश्चिम), छत्तीसगढ़ (दक्षिण-पूर्व), राजस्थान (उत्तर-पश्चिम) एवं गुजरात (पश्चिम)]
  • राज्य की अधिकतम सीमा से मिलने वाला राज्य -उत्तर प्रदेश
  • राज्य की न्यूनतम सीमा से मिलने वाला राज्य -गुजरात
  • राज्य के मध्य से गुज़रने वाली रेखा -कर्क रेखा (14 ज़िलों से गुज़रती है।)
  • भारत के कुल क्षेत्र में मध्य प्रदेश का प्रतिशत -9.38%
  • राज्य का सबसे ऊँचा स्थान -धूपगढ़ पहाड़ी (महादेव पहाड़ी में स्थित)
  • राज्य का सबसे नीचा स्थान -नर्मदा-सोन घाटी
  • सर्वाधिक गर्म स्थान -खजुराहो
  • सबसे ठंडा स्थान -शिवपुरी
  • प्रदेश की सबसे बड़ी नदी -नर्मदा नदी (1312 किमी.)

मध्य प्रदेश के सीमावर्ती राज्यों से जुड़े जिले

  • उत्तर प्रदेश से म.प्र. के 14 जिलों की सीमा लगी हुई है – मुरैना, भिण्‍ड, दतिया, शिवपुरी, अशोक नगर, सागर,  टीकमगढ, छतरपुर, पन्‍ना, सतना, रीवा, सिंगरौली, निवाड़ी।
  • राजस्‍थान से म.प्र. के 10 जिलो की सीमा लगी हुई है – झाबुआ, रतलाम, मंदसौर, नीमच, आगर, राजगढ, गुना, शिवपुरी, श्‍योपुर, मुरैना आदि।
  • महाराष्‍ट्र से म.प्र. के 9 जिलों की सीमां लगी हुई है अलीराजपुर, बडवानी, खरगोन, खंण्‍डवा, बुरहानपुर, बैतूल, छिंदवाडा, सिवनी, बालाघाट आदि
  • छत्तीसगढ से म.प्र. से लगे 6 जिलो की सीमा लगी हुई है – सीधी, सिंगरोली, शहडोल, अनूपपुर, डिण्‍डोरी, बालाघाट आदि ।
  • गुजरात से म.प्र. के 2 जिलों की सीमां लगी हुई है – झाबुआ, अलीराजपुर मध्‍य प्रदेश के ऐसे जिले जिनकी सीमा 2 राज्‍यों को स्‍पर्श करती है
  • उत्तर प्रदेश और  राजस्‍थान की सीमां पर स्थिात जिला – मुरैना (उत्तरी जिला)
  • उत्तर प्रदेश और छत्तीसगढ सीमां पर स्थित जिले – सीधी, सिंगरोली (पूर्वी जिला)
  • छत्तीसगढ और महाराष्‍ट्र की सीमां पर स्थित जिला – बालाघाट दक्षिणी जिला – बुरहानपुर
  • गुजरात और महाराष्‍ट्र की सीमां पर स्थित जिला – अलीराजपुर (पश्चिमी जिला)
  • राजस्‍थान और महाराष्‍ट्र की सीमां पर स्थित जिला – झाबुआ

मध्य प्रदेश की सीमा से लगे राज्य और उनके ज़िले

  • उत्तर प्रदेश (11 ज़िले) – आगरा, इटावा, जालौन, झाँसी, ललितपुर, बांदा, मिर्ज़ापुर, इलाहाबाद (प्रयागराज), महोबा, सोनभद्र, चित्रकूट
  • राजस्थान (10 ज़िले) – प्रतापगढ़, बांसवाड़ा, बारां, झालावाड़, सवाई-माधोपुर, कोटा, धौलपुर, चित्तौड़गढ़, भीलवाड़ा, करौली
  • महाराष्ट्र (8 ज़िले) – धुले, नागपुर, अमरावती, भंडारा, बुल्ढाना, गोंदिया, नंदूरबार, जलगाँव
  • छत्तीसगढ़ (7 ज़िले) – राजनांदगाँव, कबीरधाम, बिलासपुर, मुंगेली, सूरजपुर, कोरिया, बलरामपुर
  • गुजरात (2 ज़िले) – दाहोद, वड़ोदरा

मध्य प्रदेश के प्रमुख जलप्रपातों (Waterfalls) की लिस्ट

  • कपिलधारा जलप्रपात – नर्मदा नदी (अमरकंटक, अनूपपुर)
  • दुग्धधारा जलप्रपात – नर्मदा नदी (अमरकंटक, अनूपपुर)
  • धुआँधार जलप्रपात – नर्मदा नदी (भेड़ाघाट, जबलपुर)
  • सहस्त्रधारा जलप्रपात – नर्मदा नदी (महेश्वर)
  • मंधार जलप्रपात – नर्मदा नदी (खंडवा)
  • दर्दी जलप्रपात – नर्मदा नदी (खंडवा)
  • भालकुंड जलप्रपात – बीना नदी (सागर)
  • पाताल पानी जलप्रपात – चंबल नदी (इंदौर)
  • झाड़ी दाहा जलप्रपात – चंबल नदी (इंदौर)
  • चूलिया जलप्रपात – चंबल नदी (मंदसौर)
  • राहतगढ़ जलप्रपात – चंबल नदी (सागर)
  • अप्सरा जलप्रपात – पचमढ़ी
  • रजत जलप्रपात – पचमढ़ी
  • डचेस फॉल – पचमढ़ी
  • बी फॉल – पचमढ़ी
  • केवटी जलप्रपात – महाना नदी (रीवा)
  • चचाई जलप्रपात – बीहड़ नदी (रीवा)
  • बहुटी (बहुती) जलप्रपात – सेलर नदी (रीवा)
  • पांडव जलप्रपात – केन नदी (पन्ना)

मध्य प्रदेश का वर्तमान में सबसे ऊँचा जलप्रपात बहुटी जलप्रपात है, जो सेलर नदी पर रीवा ज़िले में स्थित है। इस जलप्रपात की उँचाई 198 मीटर (650 फीट) है। जबकि दूसरा सबसे ऊँचा चचाई जलप्रपात है, जिसकी उँचाई 130 मीटर है।

ये भी पढ़ें – मध्य प्रदेश के प्रमुख जल प्रपात और उनसे सम्बंधित महत्वपूर्ण प्रश्न

नदियों के किनारे बसे प्रमुख शहर –

  • ओंकारेश्वर, अमरकंटक, होशंगाबाद, जबलपुर, महेश्वर – नर्मदा नदी
  • श्योपुर, महू, रतलाम, मुरैना – चंबल नदी
  • मुल्ताई, बुरहानपुर – ताप्ती नदी
  • ओरछा, साँची, विदिशा, गुना – बेतवा नदी
  • शाजापुर, आष्टा, राजगढ़ – पार्वती नदी
  • शिवपुरी, दतिया – सिंध नदी
  • बागली, देवास, सोनकच्छ – कालीसिंध नदी
  • उज्जैन – क्षिप्रा नदी
  • इंदौर – खान नदी
  • कुक्षी, धार – माही नदी

मध्य प्रदेश के प्रमुख ऐतिहासिक किले/दुर्ग

  • ग्वालियर का किला/दुर्ग – 8वीं शताब्दी में राजा सूरजसेन ने बनवाया था.
  • चंदेरी का किला – 11वीं शताब्दी में प्रतिहार राजा कीर्तिपाल ने अशोकनगर में बनवाया था.
  • गिन्नौरगढ़ दुर्ग – 13वीं शताब्दी में महाराज उदय वर्मन ने रायसेन में बनवाया था.
  • असीरगढ़ का किला – 14वीं शताब्दी में आसा (अहीर राजा) ने बुरहानपुर में बनवाया था.
  • धार का किला – 1344 ई. में मोहम्मद बिन तुगलक ने धार में बनवाया था.
  • बांधवगढ़ का किला – 14वीं शताब्दी में बघेलखंड के राजाओं द्वारा उमरिया में बनवाया था.
  • मंदसौर का किला – 14वीं शताब्दी में अलाउद्दीन खिलज़ी ने मंदसौर में बनवाया था.
  • नरवर का किला – 14वीं शताब्दी में राजा नल ने शिवपुरी में बनवाया था.
  • रायसेन दुर्ग – 16वीं शताब्दी में राजा राजबसन्ती ने रायसेन में बनवाया था.
  • मंडला का दुर्ग – 16वीं शताब्दी में राजा नरेंद्र शाह ने मंडला जिले में बनवाया था.
  • गढ़कुंडार किला – 16वीं शताब्दी में केट सिंह ने टीकमगढ़ में बनवाया था.
  • ओरछा दुर्ग – 17वीं शताब्दी में राजा वीर सिंह बुंदेला ने निवाड़ी में बनवाया था.
  • अजयगढ़ का दुर्ग – 18वीं शताब्दी में राजा अजयपाल ने पन्ना में बनवाया था.

मध्य प्रदेश के प्रमुख समाधि/मज़ार/मकबरे

  • लक्ष्मीबाई की समाधि – ग्वालियर
  • झलकारीबाई की समाधि (रानी लक्ष्मीबाई की सहायिका) – ग्वालियर
  • तानसेन की समाधि/मज़ार – ग्वालियर
  • हस्सू खाँ, हद्यू खाँ का मकबरा – ग्वालियर
  • मोहम्मद गौस का मकबरा – ग्वालियर
  • दौलत खाँ लोदी का मकबरा – बुरहानपुर
  • मुमताज महल की कब्र – बुरहानपुर
  • शहजादा परवेज का मकबरा – बुरहानपुर
  • सूफी संत व शेखों का मकबरा – अशोकनगर
  • काले सैबयद का मकबरा – अशोकनगर
  • काजी का मकबरा – अशोकनगर
  • सवाईसिंह की समाधि – छतरपुर
  • रानी अवंतीबाई की समाधि – डिंडोरी
  • गिरधारीबाई की समाधि (रानी अवंतीबाई की सहायिका) – मंडला
  • बेरछा रानी का मकबरा – छतरपुर
  • छत्रसाल की समाधि – धुबेला (छतरपुर)
  • रानी दुर्गावती की समाधि – बरेला (जबलपुर)
  • नवाब सिद्धिकी हसन खाँ का मकबरा – भोपाल
  • महाराजा किशोर सिंह एवं उनकी पत्नी का मकबरा – पन्ना
  • महमूद खिलज़ी की कब्र – मांडू
  • होशंगशाह का मकबरा – मांडू
  • तात्या टोपे की समाधि – शिवपुरी
  • माधवराव सिंधिया की समाधि – शिवपुरी
  • महारानी साँख्या राजे सिंधिया की समाधि – शिवपुरी
  • पीर बुधान का मकबरा – साँवरा क्षेत्र (शिवपुरी)
  • बैजू बावरा की समाधि – चंदेरी
  • अब्दुल्ला शाह चंगल का मकबरा – धार
  • मोहम्मद आलम मुनव्वर खाँ का मकबरा – श्योपुर
  • पेशवा बाजीराव की समाधि – खरगौन (रावरखेड़ी)
  • गन्ना बेगम का मकबरा – नूराबाद (मुरैना)
  • रानी रूपमती एवं बाज बहादुर की मज़ार – सारंगपुर (राजगढ़)
  • बाबा मस्ताना अली शाह की मज़ार – धमोनी (सागर)
  • काना बाबा की समाधि – सोडलपुर (हरदा)
  • हरदौली की समाधि – निवाड़ी
  • दोस्त मोहम्मद एवं फतेही बीबी का मकबरा – हुजूर (भोपाल)
  • मल्हारराव होलकर की समाधि – आलमपुर (भिंड)

Recent Posts:

2 thoughts on “मध्य प्रदेश की सम्पूर्ण सामान्य जानकारी – MP GENERAL KNOWLEDGE 2022”

Leave a Comment

error: